Home India News यूपी में बिहार की तरह महागठबंधन की कोशिश: अजित सिंह से मिले...

यूपी में बिहार की तरह महागठबंधन की कोशिश: अजित सिंह से मिले शिवपाल, स्ट्रैटजिस्ट प्रशांत किशोर से भी की मुलाकात

288
0
SHARE
दिल्‍ली में शिवपाल यादव और अजित सिंह ने मुलाकात की।
दिल्‍ली में शिवपाल यादव और अजित सिंह ने मुलाकात की।
दिल्‍ली में शिवपाल यादव और अजित सिंह ने मुलाकात की।
लखनऊ. सपा में चल रही कलह के बीच शुक्रवार को शिवपाल यादव ने राष्‍ट्रीय लोक दल (रालोद) के चीफ अजित सिंह से उनके दिल्‍ली स्थित आवास पर मुलाकात की। शिवपाल यादव के साथ उनके बेटे आदित्‍य भी मौजूद थे। मीटिंग के बाद शिवपाल ने कहा, ‘हम अजित जी को केवल 5 नंवबर को होने वाले रजत जयंती समारोह का निमंत्रण देने आए थे।’ इस बीच खबर ये भी है कि बंद कमरे में शिवपाल ने कांग्रेस के स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत किशोर से भी मुलाकात की। 2 घंटे तक चली इस मीटिंग में यूपी चुनाव को लेकर चर्चा हुई। ऐसे में अब यूपी में महागठबंधन की अटकलें एक बार फिर तेज हो गई हैं। इस बीच नीतीश कुमार ने कहा कि पहले बात आगे नहीं बढ़ी थी। इसका मतलब ये नहीं कि संभावनाओं को फिर नहीं तलाशा जाए। बीजेपी को यूपी में आने नहीं देंगे…
– शिवपाल ने आगे कहा, ‘हम लोहियावादी और चरणसिंहवादियों को एक साथ करने की कोशिशें कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि ये साथ हों।’
– ‘हम बीजेपी को यूपी में पैर जमाने नहीं देना चाहते।’
– इस बीच नीतीश कुमार ने कहा, “पहले एक दल बनाने की दिशा में कदम उठाया था। लेकिन तब बात आगे नहीं बढ़ी। उसी वक्त खत्म हो गई।”
– “इसका मतलब ये नहीं है कि फिर संभावनाओं को नहीं तलाशना चाहिए। आज जो विपक्ष है, उसे देखते हुए जितना संभव हो, एकजुट होना चाहिए। अभी तक इसको लेकर मेरे पास कोई आमंत्रण नहीं आया है।”

अजित सिंह ने क्‍या कहा?
– ‘शिवपाल जी ने हमें रजत जयंती समारोह के लिए आमंत्रित किया है, जिसमें हम शरीक होंगे।’
– वहीं, महागठबंधन के सवाल पर उन्‍होंने कहा, ‘5 नवंबर को होने वाले प्रोग्राम के बारे में हमारी बात हुई हैं। हमारे राजनीतिक और पारिवारिक संबंध हैं। कई मुद्दों पर बातचीत हुई है।’

सपा के लिए स्‍ट्रैटजी तैयार करेंगे प्रशांत किशोर?
– सूत्रों की मानें तो कांग्रेस स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत किशोर अब समाजवादी पार्टी के लिए रणनीति बनाएंगे। बताया जा रहा है कि दिल्ली में शिवपाल ने प्रशांत किशोर से भी मुलाकात की है।
– शिवपाल और प्रशांत की मुलाकात करवाने में जेडीयू नेता केसी त्यागी ने अहम भूमिका बताई जा रही है।
– ऐसे में कहा जा रहा है कि यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को रोकने के लिए महागठबंधन बनने की कोशिशें तेज हो गई हैं।
प्रशांत का सपा से जुड़ना कांग्रेस की स्‍ट्रैटजी?
– जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में बंद कमरे में 2 घंटे तक हुई मुलाकात के दौरान शिवपाल यादव, केसी त्यागी और प्रशांत किशोर मौजूद रहे। मीटिंग में आगामी यूपी विधानसभा चुनावों को लेकर ही चर्चा हुई।
– इस दौरान ये भी बात हुई कि प्रशांत कांग्रेस के साथ न जाकर समाजवादी पार्टी के साथ कैम्पेन करेंगे।
– बताया जा रहा है कि शिवपाल से प्रशांत की मुलाकात कांग्रेस की सोची समझी स्‍ट्रैटजी के तहत कराई गई है, जिसमें कांग्रेस के आलाकमान भी शामिल हैं।
– कहा जा रहा है कि प्रशांत महागठबंधन का दूसरा पहलू हैं, जिसमें पूरी तरह से सपा को कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों का समर्थन दिलाकर बीजेपी को रोकने की तैयारी है।
– बताया ये भी जा रहा है कि केसी त्यागी ने ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के कहने पर कांग्रेस आलाकमान से बात करके यूपी में सपा को समर्थन की बात कहलवाई है।
– त्यागी ने ही कांग्रेस आलाकमान से बात करके यूपी में पीके को सपा के लिए भी काम करने को कहा है।
लालू-नीतीश को भी दिया गया निमंत्रण
– जानकारी के मुताबिक, शिवपाल यादव अपने साथ जनता परिवार के नेताओं का निमंत्रण लेकर भी दिल्‍ली गए हैं।
– उन्होंने मुलायम सिंह की तरफ से 5 नवंबर को सपा के रजत जयंती प्रोग्राम में लालू प्रसाद और नीतीश कुमार को भी लखनऊ आने का न्योता दिया है।
– कहा जा रहा है कि दोनों नेताओं ने इनविटेशन को स्वीकार भी कर लिया है। हालांकि, छठ पूजा के चलते दोनों नेता थोड़े असमंजस में हैं।