Home India News कोरोना से नहीं भूख से मर सकते हैं परदेसी–

कोरोना से नहीं भूख से मर सकते हैं परदेसी–

309
0
SHARE

बनकटी बस्ती (राजेश शुक्ल)

देश में कोरोना के मरीजों की तादात लगातार बढ़ रही है ऐसे में लोग डरे और शहमे अपने गांव की तरफ पलायन कर रहे हैं । बनकटी क्षेत्र में बुधवार तक कुल 944 लोगों को नामित किया जा चुका है जो शहरों से गांव आये हैं । परदेसियों की संख्या लगातार बढ़ता देख एहतियात के तौर पर उन्हें गांव के स्कूलों में आइसोलेट किया जा रहा है लेकिन उनके भोजन सहित अन्य जरूरी सुविधाएं नहीं मिल पा रही है । बनकटी ब्लॉक के खरवनीया गांव में अलग अलग शहरों से आधा दर्जन से अधिक लोग आए हैं जिसमें नोयडा से भी आने वाला व्यक्ति शामिल है जिसको लेकर पूरा गांव डरा हुआ है उन सभी को एक प्राथमिक स्कूल में आइसोलेट किया गया है लेकिन उन्हें भोजन की कोई व्यवस्था नहीं की गई है । प्राथमिक विद्यालय खरवनीया में रहने वाले परदेसियों रमेश चौधरी, रामतेज कन्नौजिया, अकरम अली,ठाकुर प्रसाद,इंद्रजीत कन्नौजिया नोयडा और दिल्ली से आये हैं जिनका आरोप है कि इस स्कूल में रहते दो दिन बीत गया लेकिन भूखे रहकर रात गुजारना पड़ रहा है ।वहीं यह भी कहा कि दो दिनों के बाद भी ग्राम प्रधान या उनके प्रतिनिधि ने कुशलक्षेम पूछना भी जरूरी नहीं समझा इसके अलावा मास्क,सैनिटाइजर, साबुन मिलने की उम्मीद कैसे की जा सकती है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here