Home आपका शहर झोला छाप डाक्टर के विरूद्ध कार्रवाई की मांग

झोला छाप डाक्टर के विरूद्ध कार्रवाई की मांग

358
0
SHARE
file image
बस्ती। ग्रामीण क्षेत्रों में झोला छाप डाक्टरों की सक्रियता ज्यों की त्यों जारी है और इन पर कोई प्रभावी अंकुश नहीं लग सका है। कलवारी थाना क्षेत्र के वैष्णवपुर निवासी जोखन पुत्र पखण्डी ने जिलाधिकारी, सीएमओ, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य के साथ ही अनेक वरिष्ठ अधिकारियोें को पत्र भेजकर चमनगंज चौराहे पर बिना डिग्री के डाक्टरी कर रहे मिथलेश कुमार के विरूद्ध कार्रवाई का आग्रह किया है।
भेजे पत्र में जोखन ने कहा है कि मिथलेश कुमार बिना बोर्ड बिना नाम का कथित नर्सिंग होम चलाते हैं। वे अपने नाती सुन्दरम को दिखाने गये थे जहां उसकी हालत बिगड़ गयी और मुश्किल से उसकी जान बची। इस मामले में भादवि की धारा 419, 420, इएमएक्ट की धारा 15 (3) के तहत कलवारी थाने में कथित डाक्टर मिथलेश के विरूद्ध नामजद मुकदमा तक पंजीकृत कराया गया किन्तु अभी तक उक्त फर्जी चिकित्सक के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।
वैष्णवपुर निवासी जोखन के अनुसार उक्त मिथलेश चमनगंज चौराहे पर ही अपनी प्रेक्टिस कर रहा है और अजय कुमार आनन्द के नाम से दवा बेचने का लाइसेस ले रखा है। कहा है कि अजय कुमार आनन्द कभी दिखाई नहीं पड़ते।
पत्र के माध्यम से जोखन से सम्बंधित विभागीय अधिकारियों से आग्रह किया है कि उक्त कथित फर्जी चिकित्सक के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करते हुये उसके फर्जी चिकित्सा केन्द्र को अबिलम्ब बंद कराया जाय जिससे और नागरिकों की जान बच सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here