Home आपका शहर मांगें न माने जाने पर होगा संसद घेराव

मांगें न माने जाने पर होगा संसद घेराव

355
0
SHARE

बस्ती। मेडिकल रिप्रेंजटेटिव प्रतिनिधि 12 सूत्रीय मांगों को लेकर एक दिवसीय हड़ताल पर रहे। गांधी नगर स्थित कार्यालय पर एक सभा कर प्रधानमंत्री को 12 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन भेजा।

फेडरेशन ऑफ मेडिकल सेल्स के आह्वान पर उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड मेडिकल सेल्स रिप्रेंजटेटिव प्रतिनिधि एक दिवसीय हड़ताल पर रहे। गाँधीनगर स्थित कार्यालय पर एक सभा की और प्रशासनिक अधिकारी को प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन दिया।

अध्यक्ष मोहम्मद फ़ुजैल ने सभा को संबोधित करते हुए सभी साथियो को एक जुट होने की अपील की।

सचिव कामरेड प्रशांत मेहरोत्रा ने 12 सूत्रीय मांगों के बारे मे विस्तार से बताया। प्रमुख मांगों न्यूनतम वेतन 18000 रूपये करना, जीवन रक्षक दवाओं पर टैक्स हटाना, भारतीय फार्मा मे अमेरिकी हस्तछेप बंद करना, SPE एक्ट के अनुसार फार्म A मे नियुक्ति पत्र अनिवार्य करना, मेडिकल एंड सेल्स रिप्रेंजटेटिव के लिए गड़ित राष्टीय त्रिपछिय बैठक तुरंत बुलाये जाना, महिला सेल्स प्रमोशन ईम्प्लॉईय के लिए छ महीने के मात्रत्त्व अवकाश घोषित करना,

SPE एक्ट को अन्य 29 उद्दोगों मे लागु किया जाना, EPF, ESIS और सभी क़ानूनी लाभ सुनिश्चित करने जैसी मांगों को लेकर जानकारी दी।

उपाध्यक्ष गुरुजीत सिंह सरीन ने कहा कि की इन सभी मांगो को नही माना गया तो संसद पर फिर से धरना देगे और सभी मांगों को मनावा कर ही दम लेगे। इस अवसर पर राजन यादव, रंजीत श्रीवास्तव, रंदीप माथुर, राकेश,

सुनील श्रीवास्तव, नागेंद्र शुक्ला, जीतेन्द्र मनी त्रिपाठी, प्रतीक भाटिया,दीपक श्रीवास्तव, वीरेंदर पांडेय, मनोज प्रजापति, अवदेष मौर्या, सोनू ,अफ़ज़ल सेराज, वसीम, मंसूर अली,मनीष श्रीवास्तव, डी एन शुक्ला, गंगेस्वर,कामेंद्र वर्मा, हिमांशु,दीलिप गुप्ता, सुनील राय, पंकज सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here