Home मध्य प्रदेश चीन जैसी मजबूत अर्थव्यवस्था बन सकता है भारत

चीन जैसी मजबूत अर्थव्यवस्था बन सकता है भारत

262
0
SHARE

नई दिल्ली: भारत अगले 15 वर्षों में 10 ट्रिलियन डॉलर (10 लाख करोड़ डॉलर) की अर्थव्यवस्था बन सकता है, भारत ठीक वैसा ही प्रदर्शन कर सकता है जैसा कि डेढ़ दशक पहले चीन ने किया था। यह बात नीति आयोग के वाइस चेयरमैन अरविंद पनगढ़िया ने कही है।

आईआईएम में आयोजित भारत-चीन रणनीतिक आर्थिक वार्ता में बोलते हुए अरविंद पनगढ़िया ने कहा, “ऐसे में जब चीन देश के बाहर निवेश करने के अवसर तलाश रहा है और भारत विदेशी पूंजी और तकनीक को आमंत्रित करना चाह रहा है, हमें ऐसे अवसर का लाभ लेने में सक्षम होना चाहिए और द्विपक्षीय निवेश संबंधों को मजबूत करने के लिए हमें अहम बदलाव करने चाहिए।”

नीति आयोग के वाइस चेयरमैन ने बताया कि आईआईएम शिलांग के डॉ एपीजी अब्दुल कलाम सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च एंड एनालिसिस को एक समर्पित लोगों की टीम का गठन करना चाहिए जो यह पता लगा सके कि चीन कैसे वैश्विक अर्थव्यवस्था में 500 बिलियन डॉलर से ज्यादा का योगदान दे रहा है। उन्होंने कहा कि भारत के पास चीन के मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर से जुड़े अनुभव से सीख लेने के पर्याप्त मौके हैं कि कैसे देश में एक मजबूत और स्थिर अर्थव्यवस्था का गठन किया जा सकता है। उन्होंने सुझाव दिया कि एपीजे अब्दुल कलाम सेंटर भारत और चीन की अगली रणनीतिक वार्ता के लिए भारत-चीन की नीतियों पर शोध करने के लिए एक स्पेशलाइज्ड लोगों के एक ग्रुप का गठन कर सकता है।