Home New Delhi ट्रेन के आगे कूद कर प्रेमी युगल ने दी जान

ट्रेन के आगे कूद कर प्रेमी युगल ने दी जान

742
0
SHARE

बस्ती:मंगलवार की रात ८ बजे प्रेमी युगल ने पांडेय बाजार रेलवे क्रासिंग के पास ट्रेन के सामने कूद कर जान दे दी |ट्रेन गुजरने के आधे घंटे बाद उधर से गुजर रहे राहगीरो की नजर पड़ी|खबर पाकर राजकीय रेलवे पुलिस पहुची और दोनों का क्षत -विक्षत शव बरामद कर लिया|

युवक की शिनाख्त नगर थानाक्षेत्र के मलिया चूहा गांव निवासी गुलाम हुसेन 20 पुत्र हयात अली और युवती की नाजिमा 19 निवासिनी उमरिया,कलवारी के रूप में की गई है। युवक की पहचान उसके जेब में मिले कागजातों के आधार पर हुई। तस्दीक करने को घर वालों को बुलाया गया। मृतक के भाई अली हुसेन ने मौके पर पहुंचकर भाई के शव की पहचान की। इसी के जरिए पुलिस को युवती के बारे में भी जानकारी हो पाई।

हुआ यूं गांधी नगर स्थित सक्सेरिया इंटर कालेज के भवन में युवक मेंस पार्लर चलाता था। दोपहर बाद दो बजे वह किसी को कुछ बताए बिना चुपके से निकला। काफी देर होने पर दुकान में काम करने वाले फोन करने लगे,लेकिन उसका फोन बंद मिला। थकहार कर उसके घर पर परिवारीजनों से संपर्क किया,लेकिन वहां से भी कुछ पता नहीं चल पाया। रात 8 बजे सप्तक्रांति ट्रेन के आगे पांडेय बाजार क्रा¨सग के पास युवक युवती के साथ कूद गया। इसकी वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है। ट्रेन के सामने आते ही दोनों के शरीर के कई टुकड़े हो गए। जीआरपी को दोनों का शव सहेजने में आधा घंटा से अधिक समय लग गया। परिजनों के मुताबिक युवती नाजिमा की बुआ युवक के गांव में ब्याही है। यहां आने जाने के दौरान दोनों संपर्क में आए। प्रेमिका तक पहुंचने को युवक ने कुछ माह पहले स्वयं के पैरों पर खड़ा होने को सैलून की दुकान खोल लिया।

युवती का भाई अकबर अली गांधी नगर में ही अपने मामा के सैलून की दुकान पर काम करता था। 8 नवंबर को सड़क हादसे में चोटिल होने के बाद वह घर पर ही आराम कर रहा था। प्रेमिका के जरिए पता चलने पर वह उसे अपने साथ रखने के लिए संपर्क बनाने लगा। वह अक्सर उसके घर पर फोन करता था और कारीगर की मांग करता था। तीन दिन पहले वह अकबर से मिलने के बहाने प्रेमिका के घर पहुंच गया। घर पर उसकी हरकतों से उसे संदेह हो गया और चेताया वह दोबारा नहीं आएगा। यहां गांव में और कोई कारीगर नहीं है। वह स्वस्थ होने पर दुकान पर काम करने आएगा।

मंगलवार को घर में रहने वाली नाजिमा सुबह चुपके से घर से निकल पड़ी। दोपहर बाद घर वाले उसे खोजने लगे पर कोई पता नहीं चल पाया। शाम को भाई बहन की तलाश करता बस्ती पहुंच गया। इस बीच पुलिस ने फोन कर उसे स्टेशन पर बुलाया। रात दस बजे तक लड़की के घर वाले घटना से अनजान रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here